क्रिकेटर गौतम गंभीर नें खुलासा किया कि उनके महान खिलाड़ी बनने के पीछे इस महिला का हाथ था

0
58
क्रिकेट जगत में गौतम गंभीर एक बहुत बड़ा और लोकप्रिय नाम रहा है, और उन्होंने ने अपने सन्यास लेने के बाद किया ये खुलासा.

गौतम गंभीर भारत के महान ओपनर बल्लेबाजों मेसे एक थे. गौतम ने अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम को बुलंदियों पर पहुंचाया. गौतम गंभीर का भारतीय क्रिकेट टीम के 2 वर्ल्डकप जीतने में बहुत बड़ा योगदान था. गौतम गंभीर नें 2011वर्ल्डकप में श्रीलंका के खिलाफ फाइनल मैच में 97 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली थी और 2007 में T-20 वर्ल्डकप फाइनल में भी भारतीय टीम को जितवाने में अहम योगदान था.

गंभीर के अगर कैरियर पर अगर नजर दौडाई जाए तो गंभीर नें 58 टेस्ट मैचों में गंभीर ने 4154 और 147 वनडे मैचों में 5238 रन बनाए. वहीं गंभीर ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी 15,041 रन बनाए हैं. इस दौरान भारतीय क्रिकेट टीम से अंदर-बाहर भी होते रहे कभी वो अपने खराब प्रदर्शन की वजह से टीम से बाहर हो रहे थे तो कभी उनको चोटिल होने के कारण टीम से बाहर रहना पड़ रहा था. लेकिन ये सब होने के बाद भी गंभीर कभी कमजोर नही पड़े उन्होंने आईपीएल खेला, आईपीएल उन्होंने नें कोलकाता नाईट राइडर्स की टीम से बतौर कप्तान खेला. इस दौरान कोलकाता नाईट राइडर 2012 और 2014 में विजेता भी बनी.

इसके बाद गंभीर प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलते रहे और वो अंतरराष्ट्रीय टीम में वापसी नही कर पाए, 6 दिसम्बर 2018 को गंभीर नें सन्यास लेने की घोषणा कर दी. गंभीर नें कहा कि उनके महान क्रिकेटर बनने के पीछे उनकी पत्नी नताशा को इसका श्रेय दिया, साथ ही ये कहा कि नताशा अच्छे बुरे समय में उनके साथ खड़ी रही और उनको कभी कमजोर पड़ने नही दिया जिसकी बदौलत वो अच्छा खेलते रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here